“मैनें शमी पर दांव खेला था”, शमी की गेंदबाजी से गदगद हुए कप्तान रोहित शर्मा, बल्लेबाजों को जमकर लताड़ा

टी20 विश्व कप 2022 के लिए जसप्रीत बुमराह के स्थान पर ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के कुछ ही दिनों बाद, मोहम्मद शमी ने सोमवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अभ्यास मैच में गेंदबाजी का शानदार प्रदर्शन किया है। इस दिग्गज पेसर को मैच में सिर्फ एक ओवर फेंकने का मौका मिला, वो भी आखिरी ओवर था, लेकिन उन 6 गेंदों में उन्होंने जो किया उसने सभी का ध्यान खींच लिया। यहां तक ​​कि भारत के कप्तान रोहित शर्मा भी मैच में शमी के प्रदर्शन से प्रभावित थे।

इस अभ्यास मैच में रोहित शर्मा ने अंत तक शमी को गेंदबाजी का मौका नहीं दिया था। हालांकि, हिटमैन ने 20वें ओवर को फेंकने के लिये शमी के हाथों में गेंद थमायी।

इस अनुभवी तेज गेंदबाज ने इससे पहले वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया के दो अभ्यास मैचों में एक भी गेंद नहीं फेंकी थी, आज के लेकिन, आखिरी ओवर में दमदार आस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ शमी को 10 रन बचाने का जिम्मा सौंपा गया।

शमी ने ओवर की पहली दो गेंदों पर दो-दो रन दिये, जबकि ओवर की तीसरी गेंद पर विराट कोहली के कमाल के कैच की मदद से पैट कमिंस को आउट किया। कोहली ने ये कैच कमाल की डाइव लगाते हुए सिर्फ एक हाथ से पकड़ा। अगला विकेट अगली ही गेंद पर एश्टन एगर का गिरा।

इसके बाद शमी ने शेष दो गेंदों पर जोश इंगलिस और केन रिचर्डसन के विकेट चटकाए। नतीजतन, ऑस्ट्रेलिया 180 रनों पर ऑल आउट हो गया और ये मैच भारत ने 6 रनों से अपने नाम कर लिया। मैच के बाद पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में रोहित शर्मा ने बताया कि उन्होंने शमी को सिर्फ एक ओवर ही क्यों दिया और वो भी आखिरी ओवर।

उन्होंने कहा, “वह (शमी) लंबे समय के बाद वापसी कर रहे हैं, इसलिए हम उन्हें एक ओवर देना चाहते थे। उन्हें चुनौती देना चाहते थे और उन्हें अंतिम ओवर फेंकने देना चाहते थे और आपने देखा कि उन्होंने क्या किया”।

बुमराह की गैरमौजूदगी में शमी के कंधों पर भारत के तेज आक्रमण की अगुआई करने की बड़ी जिम्मेदारी होगी। अभ्यास मैच में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जिस तरह से गेंदबाजी की, उसे देखते हुए टीम प्रबंधन का उन पर विश्वास निश्चित रूप से बढ़ा होगा।

इसके साथ ही बल्लेबाजी के बारे में बात करते हुए कप्तान ने कहा कि “मुझे लगता है हमने अच्छी बल्लेबाजी की, लेकिन आखिर के समय में हम 10-15 रन और बना सकते थे। सूर्यकुमार यादव ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि हमें कुछ इम्प्रुवमेंट्स करने की जरूरत है। खास कर गेंदबाजी में मुझे और कंसिस्टेंसी चाहिये”।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *