विज्ञापन

गुजरात से मिली हार के बाद KKR को IPL 2022 से 100 प्रतिशत बाहर होना तय, जानें इसकी 3 बड़ी वजह

गुजरात टाइटंस के लिए आईपीएल 2022 इस लीग का पहला सीजन है और उन्होंने आईपीएल के अपने डेब्यू संस्करण में जबरदस्त खेल दिखाया है। शनिवार को गुजरात और कोलकाता के बीच एक मैच खेला गया था, जिसमे हार्दिक पांड्या की कप्तानी वाली जीटी की टीम ने रोमांचक मुकाबले में 8 रन से मैच जीत लिया।

केकेआर
विज्ञापन

इस साल आईपीएल में गुजरात की टीम फ़िलहाल पॉइंट्स टेबल में पहले स्थान पर है, वहीं श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली कोलकाता नाइट राइडर्स छठे स्थान पर मौजूद है। क्योंकि केकेआर इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा संस्करण में 7 में से सिर्फ तीन मैच जीत पाई है। इस वजह से अब उन के लिए प्लेऑफ तक पहुंचना बहुत ज्यादा मुश्किल होता जा रहा है तो चलिए अब हम आपको उन तीन कारणों के बारे में बताते हैं, जिस वजह से केकेआर की टीम आईपीएल 2022 में प्लेऑफ तक नहीं पहुंच पाएगी।

1. कम से कम 6 मैचों में जीत हासिल करना जरुरी

केकेआर की टीम आईपीएल के मौजूदा सीजन में अब शायद ही प्लेऑफ तक पहुंच पाएगी। क्योंकि उन्हें 7 में से 4 मुकाबलों के दौरान हार का सामना करना पड़ा है। अगर कोलकाता की टीम प्लेऑफ में जगह बनाना चाहती है तो उन्हें बचे हुए 7 में से 6 मैचों में जीत हासिल करना आवश्यक है। क्योंकि इस बार कोई भी टीम 7 या 8 मैच जीतकर प्लेऑफ तक नहीं पहुंच पाएगी।

2. ओपनर लगातार हो रहे फ्लॉप

विज्ञापन

आईपीएल के इस सीजन में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए कई खिलाड़ियों ने ओपनिंग की है, जिसमे वेंकटेश अय्यर, सुनील नारायण, सैम बिलिंग्स और एरोन फिंच जैसे बल्लेबाजों का नाम शामिल है, लेकिन इनमे से किसी ने बेहतर खेल नहीं दिखाया है। इस वजह से उनकी टीम बड़ा स्कोर खड़ा करने में सफल नहीं हो पा रही है।

3. मध्यक्रम भी हो रहे फ्लॉप

इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सीजन में केकेआर टीम के कोई भी बल्लेबाज मध्यक्रम में अच्छी बल्लेबाजी करने में कामयाब नहीं हो पा रहे हैं। जिस वजह से अंत में आंद्रे रसेल के ऊपर अधिक दबाव आ जाता है। जिस मैच में रसेल अंत तक रहते हैं वो मैच केकेआर जीत जाती है, लेकिन जिस मैच में वो जल्दी आउट हो जाते हैं उस मुकाबले में उन्हें हार का सामना करना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.