तुलसी को जल चढ़ाएं तो जरूर पढ़ें ये मंत्र, सुख-सौभाग्य और धन सब होंगे आकर्षित

Tulsi Plant Mantra: तुलसी का पौधा हर्बल से भरा होता है जिसमें कई बीमारियों का इलाज पाया गया है। आयुर्वेद में तुलसी के पत्तों की कई औषधी बनाई जाती है जो सेहत के लिए लाभकारी होती है। हिंदू धर्म में तुलसी का पौधा पूजनीय भी होता है जिसे भगवान विष्णु का अतिप्रिय माना गया है। भगवान विष्णु को कुछ भी भोग लगाएं लेकिन उसमें तुलसी का पत्ता डाल दें तो वो भगवान को स्वीकार हो जाता है। ऐसे में तुलसी के पौधे की पूजा करते समय मंत्र बोलेंगे तो सारी परेशानी दूर हो जाएगी।

तुलसी का पौधा पूजनीय होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी के पौधे भाग्यशाली होते हैं। कहा जाता है कि घर के आंगन में तुलसी की खेती करना और उसकी पूजा करना सौभाग्यशाली होता है। ज्योतिषशास्त्र में बताया गया है कि तुलसी के पौधे को प्रतिदिन जल देना चाहिए। ऐसा करने से घर अद्भुत ऊर्जा से भर जाता है।

तुलसी के पौधे की पूजा करते समय पढ़ें ये मंत्र (Tulsi Plant Mantra)

मां लक्ष्मी की मुस्कान: तुलसी का पौधा धन की देवी, देवी लक्ष्मी का घर है; इसलिए जल अर्पित करने से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होंगी।

उत्कृष्ट मंत्रों का चयन कैसे करें?: हिंदू धर्म में मंत्रों का विशेष महत्व है। ऐसे में तुलसी को जल देते समय मंत्र दोहराने से आपको दोगुना लाभ मिलेगा।

अपनी सोच को बदलने के लिए 21 बार पढ़ें: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुलसी को जल देने से पहले ॐ सुभद्राय नमः का जाप करें। इस मंत्र का जाप करने से दो फायदे होते हैं। इस मंत्र को इक्कीस बार दोहराएं।

कितनी बार पढ़ें मंत्र?: अगर आप 21 बार नहीं बोलना चाहते तो ओम सुभद्राय नमः इल का कई बार भी जाप कर सकते हैं। इस मंत्र का एक बार जाप करने की सलाह दी जाती है।

तिजोरी भरने के लिए: तुलसी को जल चढ़ाते समय इस मंत्र का जाप करने से धन की देवी आपसे हमेशा प्रसन्न रहेंगी और तिजोरी हमेशा पैसों से भरी रहेगी।

डिस्क्लेमर: यहां बताई गई सभी बातें सामान्य जानकारी पर आधारित है। इसपर अमल करने से पहले आपको संबंधित विशेषज्ञों से परामर्श जरूर करना चाहिए।

Leave a Comment