वीरेन्द्र सहवाग ने की बड़ी भविष्यवाणी, कहा – विराट के बाद ये भारतीय खिलाड़ी क्रिकेट पर करेगा राज

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग टीम इंडिया के खिलाड़ियों को लेकर हमेशा कुछ न कुछ बयान देते रहते हैं और उनसे संबंधित जानकारी शेयर करते रहते हैं। अब एक बार फिर से सहवाग ने एक बड़ी भविष्यवाणी की है और उस दौरान उन्होंने उस खिलाड़ी के बारे में बताया है जो विश्व क्रिकेट पर राज कर सकता है।

वीरेन्द्र सहवाग

भारतीय क्रिकेट टीम के पास फिलहाल कई ऐसे खिलाड़ी मौजूद है जो हमेशा अच्छी प्रदर्शन करते हैं। इस वजह से वो कई बार खूब चर्चे में नजर आते हैं। आईपीएल की वजह से भारत को हर वर्ष कई खिलाड़ी मिलता है जो इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना जलवा दिखाते हैं। तो चलिए अब हम उस खिलाड़ी के बारे में जानते हैं जिसके बारे में वीरेन्द्र सहवाग ने बड़ी भविष्यवाणी की है।

वीरेन्द्र सहवाग ने की बड़ी भविष्यवाणी

शायद आपको मालूम होगा कि मार्च महीने में भारत और श्रीलंका के खिलाफ दो मैचों की घरेलू सीरीज खेली गई थी। उस दौरान ऋषभ पंत 120.12 की स्ट्राइक रेट के साथ टोटल 185 रन बनाए थे, जिसमे पंत ने एक 28 गेंदों पर अर्धशतकीय पारी भी खेली थी। पंत के बारे में बात करते हुए सहवाग ने कहा कि “यदि वो 100 से अधिक टेस्ट मैच खेलता है तो उसका नाम हमेशा क्रिकेट इतिहास में दर्ज हो जाएगा। क्योंकि अभी तक यह उपलब्धि सिर्फ 11 भारतीय खिलाड़ियों ने की है, जिस वजह से हर कोई उन 11 नाम को याद कर सकता है।”

वीरेन्द्र सहवाग आगे विराट कोहली एक बारे में बात करते हुए कहा कि “मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट ही किसी खिलाड़ी के लिए सबसे बेस्ट क्रिकेट है। विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट खेलने पर इतना ध्यान क्यों देते हैं? क्योंकि उन्हें अच्छी तरह मालूम है कि वो 100-150 या 200 टेस्ट भी खेलते हैं तो उनका नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज हो जाएगा।”

वीरेन्द्र सहवाग को पहली गेंद पर बाउंड्री लगाने के लिए जाना जाता है। यह कारनामा उन्होंने साल 2011 के विश्व कप में 5 बार किया गया था। जब सहवाग से इसके बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि “सचिन तेंदुलकर के साथ कई क्रिकेटरों ने मुझसे कहा कि मैंने पहली गेंद को मारने का प्लान बनाया है, लेकिन हमने कभी भी ऐसा नहीं किया। मैं पहली गेंद को इस वजह से मारता था, क्योंकि मुझे ऐसा लगता था कि वह वार्मअप या खराब गेंद हो सकती है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.