आईपीएल में सबसे अधिक कैच लपकने वाले टॉप-5 विकेटकीपर, नंबर 1 बन चुका है सबका चहेता

आईपीएल इतिहास में बहुत सारे विकेटकीपरों ने शानदार विकेटकीपिंग की है, जिस वजह से उनके नाम बहुत सारे रिकॉर्ड दर्ज है। इंडियन प्रीमियर लीग में हर साल कुछ न कुछ रिकॉर्ड बनते और टूटते हैं, लेकिन कुछ खिलाड़ियों ने शानदार विकेटकीपिंग से सबका दिल जीता है।

आईपीएल

इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सीजन में भी कई टीमों के खिलाड़ी जबरदस्त प्रदर्शन कर रहे हैं, इसी वजह से उनकी खूब तारीफ़ हो रही है। आज हम आपको आईपीएल इतिहास के उन 5 खिलाड़ियों के बताने जा रहे हैं जिन्होंने इस लीग में बतौर विकेटकीपर सबसे अधिक कैच लपकने का कारनामा किया है।

1. महेंद्र सिंह धोनी

इस लिस्ट में सबसे पहले महेंद्र सिंह धोनी का नाम मौजूद है। आईपीएल में धोनी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए कप्तानी कर चुके हैं। इस लीग में एमएस धोनी बतौर विकेटकीपर सबसे अधिक 124 कैच लपक चुके हैं। इस वजह से धोनी इंडियन प्रीमियर लीग के सबसे सफल विकेटकीपर है।

2. दिनेश कार्तिक

आईपीएल के मौजूदा सीजन में दिनेश कार्तिक आरसीबी के लिए खेल रहे हैं। इससे पहले वो कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते थे। इस लीग में कार्तिक ने हमेशा अच्छी विकेटकीपिंग की है, जिस वजह से इस सूची में वो दूसरे स्थान पर मौजूद है। आईपीएल में दिनेश कार्तिक टोटल 117 कैच ले चुके हैं।

3. पार्थिव पटेल

पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के अलावे भी कई टीमों के लिए खेल चुके हैं। इस लीग में पार्थिव ने हमेशा शानदार विकेटकीपिंग की है, जिस वजह से उनके नाम 65 कैच दर्ज है।

4. ऋद्धिमान साहा

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा भी इंडियन प्रीमियर लीग में कई टीमों के लिए खेल चुके हैं। उस दौरान उन्होंने हमेशा अच्छी विकेटकीपिंग की है, क्योंकि उनके नाम 62 कैच दर्ज है। इसी वजह से रिद्धिमान साह आईपीएल इतिहास के सबसे सफल विकेटकीपर में से एक है।

5. रॉबिन उथप्पा

रॉबिन उथप्पा आईपीएल में फ़िलहाल चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हैं, लेकिन वो विकेटकीपिंग नहीं करते हैं। क्योंकि सीएसके के पास पहले से महेंद्र सिंह धोनी के रूप में बेहतरीन विकेटकीपर है। लेकिन इससे पहले उथप्पा अन्य टीमों के लिए विकेटकीपिंग कर चुके हैं और उस दौरान उन्होंने 58 कैच लपके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.