अश्विन के स्टाइल में हुए आउट तो बर्दाश्त नहीं कर पाए अंग्रेज, ICC के नियम पर उठाए सवाल, फिर कप्तान से मिला मुंहतोड़ जवाब

इंग्लैंड और भारत की महिला टीम के बीच तीन वनडे मैचों की श्रृंखला खेली जा चुकी है, जिसमे इंडिया ने मेजबान टीम को क्लीन स्वीप कर दिया है। इस श्रृंखला का तीसरा और अंतिम ओडीआई मैच शनिवार को लंदन के लॉर्ड्स के मैदान पर खेला गया था, जिसमे भारतीय महिला टीम को 16 रनों से जीत मिली है।

आर अश्विन और दीप्ति शर्मा

उस मैच में भारतीय महिला टीम पहले बल्लेबाजी करती हुई 45.4 ओव में सिर्फ 169 रन बना पाई थी। उसके जवाब में मेजबान इंग्लैंड सिर्फ 153 रनों तक पहुंच पाई। इस वजह से वह मुकाबला इंडियन महिला टीम को 16 रनों से जीतमिल गई। लेकिन उस दौरान एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसकी वजह से कई महिला खिलाड़ी सुर्ख़ियों में बनी हुई है।

टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच ने रखी अपनी राय, कहा – “मै नहीं चाहता कि वो ओपनिंग करे”

रन आउट पर मचा बवाल

उस मुकाबले में जब इंग्लैंड महिला टीम को जीत के लिए 17 रनों की आवश्यकता थी, उस समय इंग्लैंड की तरफ से अंतिम विकेट के रूप में चार्ली डीन और फ्रेया डेविज बल्लेबाजी कर रही थी। उस मैच के दौरान 44वां ओवर भारत की तरफ से दीप्ति शर्मा करने के लिए आई। उस ओवर की चौथी गेंद पर फ्रेया स्ट्राइक और चार्ली नॉन स्ट्राइक पर थी।

44वें ओवर की चौथी गेंद पर जैसी ही दीप्ति शर्मा गेंद फेंकने वाली थी, लेकिन उससे पहले नॉन स्ट्राइक पर मौजूद चार्ली डीन आगे निकल गई। इस वजह से दीप्ति ने उन्हें रन आउट कर दिया। उसके बाद भारत ने वह मुकाबला 16 रनों से जीत लिया। लेकिन यह रन आउट उस तरह तुल पकड़ लिया, जिस तरह आईपीएल में आर अश्विन ने जोस बटलर को आउट करने के बाद पकड़ लिया था।

हुसैन-ब्रॉड ने इस नियम को ठहराया गलत

उस मुकाबले के दौरान नासिर हुसैन इंग्लिश कमेंट्री कर रहे थे। इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर नासिर हुसैन ने कहा कि जिस तरह से मैच समाप्त हुआ यह शर्म की बात है। उसके बाद इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड भी ट्विट करते हुए नासिर की बातों से सहमती जताई। हुसैन ने आईसीसी के इस नियम पर भी सवाल उठा दिए। लेकिन फैंस दीप्ति का समर्थन करते हुए कहा कि उन्होंने जो कुछ भी किया वो आईसीसी के नियम के तहत है तो इसमें गलत क्या है।

फिर कप्तान से दिया करारा जवाब

जब वह मुकाबला खत्म हो गया तब पोस्ट मैच प्रजेंटेशन के दौरान भारतीय महिला टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर से भी इसके बारे में पूछा गया। फिर उन्होंने दीप्ति का समर्थन में कहा कि “आपने पहले नो विकेट के बारे में नहीं पूछा। यह हो खेल का एक हिस्सा है, इस वजह से मुझे नहीं लग रहा कि मैंने कुछ नया किया है। यह आपके अवेयरनेस को दिखा रहा है कि बल्लेबाज क्या करने की कोशिश कर रहा है। मैं अपने खिलाड़ियों का समर्थन करूंगी, क्योंकि उसने जो कुछ भी किया वो आईसीसी के नियम के विरुद्ध नहीं है।”

टीम इंडिया में नहीं मिला डेब्यू का मौका, अब दोहरा शतक जड़ कर चयनकर्ताओं को दिया करारा जवाब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *