रोहित-द्रविड़ बार-बार कर रहे एक ही गलती, पिछले 30 मैचों में 29 बार कर चुका ये एक्सपेरिमेंट, वर्ल्ड कप में भारत की हार तय

ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में अगले महीने से टी-20 वर्ल्ड कप खेला जाएगा, जिस के लिए सभी टीमें इन दिनों तैयारी में जुटी हुई है। उस विश्व कप के लिए भारतीय टीम भी तैयारी कर रही है, लेकिन टीम इंडिया को बहुत ज्यादा एक्सपेरिमेंट करते हुए देखा जा रहा है, जिसमे उन्हें अभी तक सफलता नहीं मिली है।

रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़

हाल ही में संयुक्त अरब अमीरात में एशिया कप खेला गया था, जिसमे टीम इंडिया की तरफ से कई गलतियां हुई थी। इस वजह से भारत वह ट्रॉफी जीतने में सफल नहीं हुआ था। अगले महीने जब भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया की धरती पर वर्ल्ड कप खेलेगा तब उन्हें उन गलतियों से बचना होगा, अन्यथा इस बार भी टीम इंडिया विश्व कप जीतने में सफल नहीं होगी।

टीम इंडिया में नहीं मिला डेब्यू का मौका, अब दोहरा शतक जड़ कर चयनकर्ताओं को दिया करारा जवाब

रोहित-द्रविड़ बार-बार कर रहे एक ही गलती

ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में होने वाली टी-20 विश्व कप के लिए लगभग सभी देशों ने अपनी-अपनी टीम का ऐलान कर दिया है, जिसमे टीम इंडिया भी शामिल है। आगामी वर्ल्ड कप के लिए इंडियन सलेक्टर्स ने 15 सदस्यीय का चयन किया है, जिसमे बहुत सारी कमियां नजर आ रही है। इस वजह से कई एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस बार भी भारत विश्व कप शायद ही जीत पाए।

साल 2021 में खेले गए वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया सबसे अधिक 30 टी-20 मैच खेली है, लेकिन उस दौरान भारतीय चयनकर्ता, कप्तान रोहित शर्मा और कोच राहुल द्रविड़ मिलकर कई एक्सपेरिमेंट करते देखा गया है। लेकिन अभी तक भारतीय टीम को इस एक्सपेरिमेंट में सफलता नहीं मिली है, इस वजह से माना जा रहा है कि टीम इंडिया शायद ही टी-20 वर्ल्ड को का खिताब जीत पाएगी।

पिछले साल खेले गए वर्ल्ड कप के बाद भारत कुल 30 टी-20 मैच खेल चुका है। उस दौरान टीम इंडिया की तरफ से 29 मैचों में कुछ ना कुछ अलग-अलग खिलाड़ियों को मौका दिया गया है। उस दौरान सिर्फ भुवनेश्वर कुमार सबसे अधिक 26 मैच खेले हैं। इसके अलावा कप्तान रोहित शर्मा 21 और पूर्व कप्तान विराट कोहली 10 टी-20 मैच खेल पाए हैं।

वहीं दिनेश कार्तिक को 19 और रविचंद्रन अश्विन को 7 मैच खेलने का मौका दिया गया है। उसके बाद केएल राहुल 8 और जसप्रीत बुमराह सिर्फ तीन मैच खेल पाए हैं। भारत की तरफ से पिछले 30 मैचों में 29 खिलाड़ियों को अजमाया गया है, लेकिन उसमें टीम इंडिया को कुछ भी सफलता नहीं मिली है। इस वजह से अब भी भारतीय टीम की प्लेइंग इलेवन अच्छी तरह नहीं बन पा रही है। ऐसे में भारत के लिए टी-20 वर्ल्ड कप जीतना बहुत मुश्किल दिख रहा है।

अश्विन के स्टाइल में हुए आउट तो बर्दाश्त नहीं कर पाए अंग्रेज, ICC के नियम पर उठाए सवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *