विज्ञापन

चेन्नई की टीम में जूनियर शोएब अख्तर की अचानक हुई एंट्री, 175 की स्पीड से कर चुका है गेंदबाजी, अब CSK को हराना मुश्किल, देखें वीडियो

आईपीएल 2022 में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम अच्छी प्रदर्शन नहीं कर पा रही है, जिस वजह से पॉइंट्स टेबल में सीएसके फिलहाल नोवें स्थान पर मौजूद है। इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन से सीएसके टीम के कई खिलाड़ी बाहर हो गए हैं, जिस वजह से उनकी टीम कुछ ज्यादा कमजोर हो गई है।

विज्ञापन

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए इस बार महेंद्र सिंह धोनी कप्तानी नहीं कर रहे हैं। इस वजह से टीम के ऑलराउंडर रविन्द्र जडेजा के हाथो में सीएसके की कमान सौंपी गई है, लेकिन उनकी कप्तानी में चेन्नई की टीम बहुत ज्यादा खराब प्रदर्शन किया है। इस वजह से सीएसके के चाहने वाले बहुत ज्यादा निराश है।

चेन्नई को मिला जूनियर शोएब अख्तर

आपको बता दें कि न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज एडम मिल्ने आईपीएल 2022 में चेन्नई सुपर किंग्स टीम का हिस्सा थे। लेकिन चोट की वजह से मिल्ने इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन से बाहर हो गए हैं। उसके बाद सीएसके की टीम में एक ऐसे तेज गेंदबाज की वापसी हुई है, जिसे लोग जूनियर शोएब अख्तर के नाम से भी जानते हैं, क्योंकि उनके पास अच्छी गति है।

विज्ञापन

चेन्नई सुपर किंग्स ने एडम मिल्ने की जगह श्रीलंका के 19 वर्षीय युवा तेज गेंदबाज मथीशा पथिराना को अपनी टीम में शामिल किया है। श्रीलंका के इस गेंदबाज को क्रिकेट फैंस तब से जानने लगे हैं जब उन्होंने अंडर-19 विश्व कप में 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी थी। इस वजह से मथीशा पथिराना लंबे समय तक चर्चा में रहे थे।

पथिराना ने 175 की स्पीड से फेंकी थी गेंद

श्रीलंका के युवा तेज गेंदबाज मथीशा पथिराना ने साल 2020 के अंडर-19 वर्ल्ड कप के दौरान एक खतरनाक तेज गेंद फेंका था। आपको बता दें कि उस विश्व कप में भारत और श्रीलंका के बीच एक मैच खेला गया था। उस दौरान जब इंडिया की टीम बल्लेबाजी कर रही थी तब स्ट्राइक पर मौजूद यशस्वी जायसवाल को उन्होंने 175 किलो प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी थी।

स्पीडोमीटर में हुई थी खराबी

आपको बता दें कि मथीशा पथिराना ने भारत के खिलाफ यशस्वी जायसवाल को 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से जो गेंद डाली थी, उसे अंपायर ने वाइड दे दिया था। आपको यह भी बता दें कि उस गेंद के समय स्पीडोमीटर में कुछ तकनीकी खराबी आ गई थी, जिस वजह से टीवी स्क्रीन पर वह गेंद 175 किलोमीटर घंटे की रफ्तार से दिखाया गया। जब पथिराना ने वह गेंद फेंकी, उसके बाद से लोग उसे जूनियर शोएब अख्तर के नाम से जानने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.