IND vs SA: “जो सिर्फ अपने लिए खेलते उन्हें देश के लिए खेलने का कोई हक नहीं” सैमसन ने खेली धमाकेदार पारी फिर लोगों ने उड़ाए मजाक

तीन मैचों की सीरीज के पहले वनडे मैच में गुरूवार को दक्षिण अफ्रीका ने भारत को नौ रनों से हरा कर सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। इस मैच में पहले गेंदबाजी करते हुए, भारत ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया, क्योंकि उन्होंने डेविड मिलर (75) और हेनरिक क्लासेन (75) के बीच शतकीय साझेदारी से पहले दक्षिण अफ्रीका को 110 के स्कोर पर 4 विकेटों का झटका दे दिया था।

इस मैच में संजु सैमसन ने 86 रनों की तूफानी पारी खेली थी, लेकिन बावजूद इसके टीम जीत नहीं दर्ज कर पायी। वहीं, सैमसन की इस पारी के बाद सोशल मीडिया पर लोग उन्हें स्वार्थी कहने लगे हैं। लोगों का कहना है कि संजु सैमसन खुद के लिये खेलते हैं, ना कि देश के लिये।

दक्षिण अफ्रीका ने निर्धारित ओवरों में 249 का स्कोर खड़ा किया। बता दें कि ये मुकाबला बारिश की वजह से देरी से शुरू हुआ था और दोनों पक्षों के 10-10 ओवर कम कर दिये गये थे।  पर धकेल दिया। बारिश के कारण मैच को 40 ओवर का कर दिया गया था।

लक्ष्य का पीछा करने के उतरी टीम इंडिया की शुरूआत कुछ खास नहीं रही। कप्तान और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और शुभमन गिल बिना किसी महत्वपूर्ण योगदान के पवेलियन लौट गए। भारत ने 8 रनों के स्कोर पर ही अपने दोनों सलामी बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिये थे।

वहीं, ऋतुराज गायकवाड़ और ईशान किशन ने 40 रनों की साझेदारी के साथ टीम की लड़खड़ाती पारी को स्थिर करने की कोशिश की, लेकिन आवश्यक रन रेट के साथ गायकवाड़ ने गलत शॉट खेला और बोल्ड हो गए।

गायकवाड़ के कुछ ही देर बाद ईशान किशन का विकेट भी गिर गया। भारत का स्कोर अब 18 वें ओवर में 51-4 पर का था। अब क्रीज पर आये श्रेयस अय्यर और संजू सैमसन, जिन्होंने दक्षिण अफ्रीका की गेंदबाजी पर जवाबी हमला किया। दोनों ने खुलकर खेला और अय्यर के 37 गेंदों पर 50 रन बनाने से पहले एक साथ 67 रन जोड़े।

मैच खत्म हो गया, लेकिन संजू सैमसन हार मानने को तैयार नहीं थे। उन्होंने खेल को गहराई से लिया और 63 गेंदों में 86 रनों की शानदार पारी खेली, हालांकि, वह भारत को जीत नहीं दिला सके। फिर भी, यह देश के लिए उनकी सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक थी। हालांकि, इसके बाद से सोशल मीडिया पर सैमसन को फऐंस के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। कुछ फैंस ने तो संजु सैमसन को ‘सेल्फिश’ तक कह दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *