IND vs AUS : 13 सालों के लंबे इंतजार के बाद आखिर इस खिलाड़ी ने मारी विराट के खिलाफ बाजी

IND vs AUS : इस समय भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जा रही है। जिसके पहले मुकाबले के दौरान जहां भारतीय टीम द्वारा टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया गया। वहीं ऑस्ट्रेलियाई टीम बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर उतरी। ताबड़तोड़ गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए भारत ने आस्ट्रेलिया को 188 रनों पर समेट दिया। लेकिन इसके बाद भारतीय टीम एक छोटे से लक्ष्य का पीछा करते हुए 6 ओवर में अपने तीन विकेट गंवा बैठी। इन आउट होने वाले बल्लेबाजों में एक नाम विराट कोहली का भी शामिल है।

विराट कोहली से जीत गया यह गेंदबाज

साल 2010 में अपना वनडे पदार्पण करने वाले मिचेल स्टार्क ने एक दिवसीय सीरीज के पहले मुकाबले में विराट कोहली को आउट करके पवेलियन भेज दिया। विराट का विकेट मिचेल स्टार्क ने अपने करियर के दौरान पहली बार हासिल किया है, जिसके लिए इस गेंदबाज को 13 सालों का लंबा इंतजार करना पड़ा। अब तक विराट और स्टार्क का आमना सामना कई सीरीज और कई आईसीसी टूर्नामेंट में हो चुका है, लेकिन कभी भी स्टार्क विराट का विकेट हासिल नहीं कर सके।

कई बल्लेबाज नहीं दिखा सके बेहतर बल्लेबाजी का प्रदर्शन

बता दे कि भारतीय टीम के कई बल्लेबाज ऐसे रहे, जो सिर्फ 189 रनों का पीछा करते हुए लगातार अपने विकेट गंवाते रहे। उनमें सबसे पहला नाम ईशान किशन का आता है, जो मात्र 3 रन बनाकर ही आउट हो गए। उसके बाद विराट कोहली मात्र 4 रन और सूर्यकुमार यादव तो इस मैच के दौरान अपना खाता तक नहीं खोल सके और आउट हो गएऋ फिर शुभमन गिल मैदान पर कुछ देर के लिए टिके रहे, लेकिन 20 रन से अधिक वह भी नहीं बना सके।

ऑस्ट्रेलिया हुआ 188 रनों पर ऑल आउट

अगर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे एकदिवसीय मुकाबले की बात की जाए तो इस मुकाबले में भारतीय टीम का पलड़ा अभी भारी है। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया को मात्र 188 के स्कोर पर ही समेटने में कामयाब रही। धाकड़ गेंदबाज मोहम्मद शमी ने भारत की तरफ से बेहतरीन गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को रन बनाने के लिए तरसा दिया, और एक के बाद एक ऑस्ट्रेलिया के 3 विकेट झटके। वही मोहम्मद सिराज 3 विकेट, रवींद्र जडेजा 2 विकेट, हार्दिक पांड्या और कुलदीप यादव को मात्र एक-एक विकेट ही इस मुकाबले के दौरान मिल सका।

Read Also:-दारा सिंह 500 से ज्यादा मुकाबले लड़े पर एक भी मैच नहीं हारे, रामायण में हनुमान बनकर मिली पहचान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *