डेब्यू मैच में ठोका शतक, फिर मोटा कहकर टीम से किया बाहर, अब मात्र 41 गेंदों में ठोका 134 रन, चौके-छक्कों की लगाई झड़ी

भारतीय क्रिकेट टीम में किसी भी खिलाड़ी के लिए जगह बनाना आसान नहीं है, क्योंकि यहां पर बहुत ज्यादा कम्पटीशन हो चुका है। भारत में ऐसे बहुत सारे क्रिकेटर मौजूद है जो टीम इंडिया के लिए अच्छी प्रदर्शन कर चुके हैं, लेकिन फिर भी उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का मौका नहीं मिलता है।

पृथ्वी शॉ

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए अभी तक कई खिलाड़ियों ने तूफानी अंदाज में शतक लगाया है, जिस वजह से वो लंबे समय तक चर्चा में रहे हैं। आज हम आपको एक ऐसे खिलाड़ी के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने भारत के लिए डेब्यू करते हुए बेहतरीन शतक लगाया था, लेकिन उसे जल्द टीम इंडिया से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। लेकिन अब उन्होंने तूफानी अंदाज में शतक ठोकर सबको हैरान कर दिया है।

इस खिलाड़ी ने ठोका तूफानी शतक

भारतीय क्रिकेट टीम के सभी महत्वपूर्ण खिलाड़ी इस समय ऑस्ट्रेलिया में है जहां पर उन्हें टी20 वर्ल्ड कप खेलना है। लेकिन उस टीम में कई खामियां है जिस वजह से भारत के लिए यह विश्व कप जीतना बहुत ज्यादा मुश्किल दिख रहा है, लेकिन चयनकर्ताओं ने एक ऐसे खिलाड़ी को मौका नहीं दिया है जो भारत में इन दिनों अपनी बल्लेबाजी से सबका दिल जीत रहा है तो चलिए अब हम उसके बारे में जानते हैं।

हम युवा भारतीय बल्लेबाज पृथ्वी शॉ के बारे में बात कर रहे हैं जो इन दिनों सैयद मुश्ताक अली ट्राफी में अपनी बल्लेबाजी से लोगों का दिल जीत जीत रहे हैं। पृथ्वी शॉ इस टूर्नामेंट में मुंबई के लिए खेल रहे हैं और असम के खिलाफ मैच में उन्होंने तूफानी अंदाज में शतक लगाया है। उस दौरान पृथ्वी कुल 61 गेंदों पर 134 रनों की तूफानी पारी खेली है, लेकिन इसमें से अधितर गेंद उन्होंने डॉट खेली है तो चलिए अब हम जानते हैं कि उन्होंने मात्र 41 गेंदों में 134 रन कैसे बनाया है।

41 गेंदों में ठोका 134 रन

पृथ्वी शॉ 134 रनों की पारी के दौरान मैदान के चारों तरफ शॉट लगाए हैं, जिसमे 13 चौके और 9 गगनचुंबी छक्के भी शामिल है। अगर हम पृथ्वी के चौके और छक्के को जोड़ देते हैं तो उन्होंने मात्र 22 गेंदों में 106 रन बनाए हैं। इसके अलावा पृथ्वी ने 9 डबल और 10 सिंगल रन दौड़कर पूरा किया है।

अगर हम पृथ्वी शॉ के चौके छक्के तथा सिंगल और डबल को जोड़ देते हैं तो उन्होंने सिर्फ 41 गेंदों में 134 रन बनाया है। इसके अलावा 20 गेंद उन्होंने डॉट खेली है। पृथ्वी भारत के लिए 5 टेस्ट, 6 वनडे और एक टी20 मैच खेल चुके हैं और उस दौरान उन्होंने ठीक-ठाक रन बनाया है।

साल 2018 में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करते हुए बेहतरीन शतक लगाया था, लेकिन उस हिसाब से उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले। बाद में पृथ्वी को मोटा कहकर टीम में जगह नहीं दिया। लेकिन अब उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से यह साबित कर दिया है कि पृथ्वी को जल्द भारतीय टीम में मौका दिया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *