भारतीय गेंदबाजों का खराब प्रदर्शन, सबसे ज्यादा छक्के खाने का ताज हर्षल पटेल के सर, लिस्ट में पांड्या और चहल भी शामिल

अगले महीने ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप खेला जाना है, जिसकी तैयारियां टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाली सभी टीमों ने काफी पहले ही शुरू कर दी है। सभी टीमें अपनी अपनी कमजोरियों पर काम कर उन्हें खत्म करने के प्रयास में लगी हुई है, लेकिन भारतीय क्रिकेट टीम की एक खामी पिछले काफी समय से देखने को मिल रही है और वो है टीम की बॉलिंग लाइन अप।

हर्षल पटेल और आवेश खान दोनों हुए फ्लॉप

पूरे एशिया कप से लेकर मौजूदा भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया टी20 सीरीज तक लगभग हर मुकाबले में भारतीय टीम के गेंदबाजों ने निराशाजनक प्रदर्शन किया है। चाहे आप, आवेश खान का उदाहरण लें या फिर हर्षल पटेल। दोनों ही गेंदबाजों को डेथ ओवर्स का स्पेशलिस्ट कहा जाता है, लेकिन पिछले कुछ मुकाबलों में ऐसा कुछ देखने को तो नहीं मिला।

हर्षल पटेल अपने खराब गेंदबाजी प्रदर्शन के लिये फिलहाल सोशल मीडिया पर काफी ट्रॉल किये जा रहे हैं। हर्षल पटेल के अलावा कुछ भारतीय गेंदबाज और भी हैं, जो अपने प्रदर्शन से फैंस का दिल नहीं जीत पाये। भुवनेश्वर कुमार कुछ एक मुकाबलों में भले ही सफल रहे हों, लेकिन डेथ ओवरों में कई बार उन्होंने काफी बुरा प्रदर्शन किया है।

भुवनेश्वर कुमार और 19वें ओवर की कहानी

एशिया कप के भी दो मुकाबलों में जब भुवनेश्वर कुमार को 19वां ओवर करने को दिया गया, तो उन्होंने उन ओवरों में 15 से ज्यादा रन लुटाये हैं। भुवनेश्वर कुमार के इन ओवरों ने एक पल में टीम इंडिया की जीता हुआ मैच हार में तब्दील कर दिया था।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टी20 में हर्षल पटेल को कप्तान रोहित शर्मा ने पारी का आखरी ओवर डालने को कहा, जिसमें हर्षल पटेल ने 19 रन लुटाये। तीन गेंदों पर तो मैथ्यू वेड ने लगातार छक्के भी जड़े। दूसरे टी20 में दो ओवरों में हर्षल पटेल ने कुल 32 रन खर्च किये।

वहीं, बात करें पहले टी20 की तो उस मैच में भी हर्षल पटेल काफी महंगे साबित हुए। उस मैच में हर्षल पटेल ने 4 ओवरों में 49 रन लुटाये थे।

इन गेंदबाजों ने खाये सबसे ज्यादा छक्के

कुल मिला कर भारतीय टीम के गेंदबाजों का हाल इस साल काफी बुरा रहा है। इस साल सबसे ज्यादा छक्के खाने वाले गेंदबाजों में टीम इंडिया के हर्षल पटेल (31), आवेश खान (21), युजवेंद्र चहल (20) और हार्दिक पांड्या (20) शामिल हैं।

हार्दिक पांड्या का फॉर्म पिछले कुछ मुकाबलों में सुधरता दिखा है, लेकिन कुछ मुकाबलों में वे भी काफी महंगे साबित हुए हैं। वहीं, चहल की बात करें, तो इनके स्पिन का जादू काफी समय से मैदान पर नहीं दिख पाया है।     

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *