इन 4 वजहों से आईपीएल 2022 का खिताब नहीं जीत पाएगी चेन्नई की टीम, फैंस जानकर होंगे दुखी

आईपीएल 2022 का सातवां मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और लखनऊ सुपर जायंट्स के बीच खेला गया था। उस मुकाबले के दौरान सीएसके की टीम को 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इसी के साथ आईपीएल इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब चेन्नई को शुरुआती दोनों मैचों में हार का सामना करना पड़ा है, क्योंकि सीएसके इससे पहले इंडियन प्रीमियर लीग में कभी भी शुरुआती दोनों मैचों में नहीं हारी थी।

आईपीएल टीम सीएसके

इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन में टीम के बेहतरीन ऑलराउंडर रविन्द्र जडेजा कप्तानी कर रहे हैं, लेकिन उनकी कप्तानी में सीएसके को शुरुआती दोनों मुकाबलों के दौरान हार का सामना करना पड़ा है। इस वजह से चेन्नई सुपर किंग्स के चाहने वाले बहुत दुखी होंगे। आज हम आपको उन 4 कारणों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी वजह से सीएसके की टीम इस बार आईपीएल का ख़िताब नहीं जीत पाएगी।

1. सीएसके पास अनुभवहीन कप्तान का होना

इस बार इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई के लिए रविन्द्र जडेजा कप्तानी कर रहे हैं और इसके बारे में आपको अच्छी तरह मालूम होगा। जडेजा की कप्तानी में चेन्नई इस साल आईपीएल के शुरुआती दोनों मुकाबले हार चुकी है। इससे साफ़ नजर आ रहा है कि जडेजा के पास कप्तानी करने का कोई अनुभव नहीं है। ऐसे में शायद ही सीएसके की टीम इस वर्ष आईपीएल की ट्रॉफी जीत पाएगी।

2. सीएसके के खिलाड़ियों की खराब गेंदबाजी

लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ पिछले मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के गेंदबाजों ने बहुत ज्यादा खराब गेंदबाजी की थी। उस दौरान सीएसके की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 210 रनों का विशाल स्कोर खड़ा की थी, लेकिन उस लक्ष्य को लखनऊ की टीम ने 19.3 ओवर में आसानी से पूरा कर लिया।

3. चेन्नई के खिलाड़ियों की ख़राब फील्डिंग

चेन्नई सुपर किंग्स के कई खिलाड़ी लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ खराब फील्डिंग करते नजर आए। उस दौरान मोईन अली जैसे बेहतरीन फील्डर ने भी क्विंटन डीकॉक का आसान सा कैच छोड़ दिया। इसी वजह से लखनऊ की टीम वह मैच आसानी से जीत गई। अगर इस वर्ष आईपीएल में आगे भी सीएसके के खिलाड़ी इसी तरह फील्डिंग करते हैं तो उन के लिए ट्रॉफी जीतना मुश्किल हो जाएगा।

4. इस बार आईपीएल की सभी टीमें मजबूत है

इस साल आईपीएल में लगभग सभी टीमों के पास बेहतरीन खिलाड़ियों की फौज मौजूद है, जिस वजह से चेन्नई के लिए कोई भी मैच आसानी से जीतना बहुत मुश्किल दिख रहा है। अगर आगे भी चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी इसी तरह प्रदर्शन करते है तो फिर उन्हें इस साल आईपीएल जीतने का सपना भी छोड़ देना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.