विज्ञापन

प्लेऑफ में अभी भी चेन्नई सुपर किंग्स बना सकती है जगह, एमएस धोनी ने खुद किया खुलासा, जानें कैसे?

आईपीएल 2022 का 55वां मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ शानदार तारीके से जीता। उस दौरान सीएसके टीम के लगभग सभी खिलाड़ियों ने अपना-अपना योगदान दिया। इस वजह से चेन्नई टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बहुत खुश हुए और वो अपनी टीम के खिलाड़ियों की तारीफ़ करते नजर आए।

महेंद्र सिंह धोनी
विज्ञापन

दिल्ली के खिलाफ मैच में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 208 रनों का बढ़िया स्कोर खड़ा किया। लेकिन उस विशाल स्कोर के जवाब में डीसी की टीम मात्र 117 रनों पर ऑल आउट हो गई। जिस वजह से उस मैच सीएसके को 91 रनों से बड़ी जीत मिली।

जीत के बाद प्लेऑफ को लेकर बोले धोनी

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मिली जीत के बाद चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बहुत खुश हुए। उस दौरान उन्होंने कहा कि “यह सच में काम करता है। बढ़िया तब होता जब हम इस तरह से कहीं जल्दी जीत प्राप्त कर लेते। यह एक परफेक्ट खेल था। वास्तव में बल्लेबाजों ने बढ़िया प्रदर्शन किया। टॉस के समय हम जीतना चाहते थे और पहले गेंदबाजी करना चाहते थे, लेकिन टॉस हारना बेहतर साबित हुआ। गेंद रुकती है और फिर आती है और यह 13-14 ओवर के बाद व्यवहार करती है। सभी ने थोड़ा-थोड़ा अपना योगदान दिया। स्कोर बोर्ड पर रन सच में मदद करते हैं और उनके बड़े हिटर्स को रोकना बहुत महत्वपूर्ण था। सिमरजीत और मुकेश को परिपक्व होने में समय लगा है। उन दोनों के पास काबिलियत है और वो जितना अधिक खेलेंगे उतना ज्यादा बेहतर होते जाएंगे।”

विज्ञापन

उन्होंने आगे कहा कि “टी-20 क्रिकेट में यह जानना बहुत आवश्यक होता है कि किस गेंद पर गेंदबाजी नहीं करनी चाहिए। मुझे सीधे अंदर आना और फिर मारना बिल्कुल भी पसंद नहीं है। यदि हम मे से कुछ 2 में से 8 के स्कोर के साथ योगदान करता है तो यह हेल्प करता है। लेकिन सिर्फ दो या तीन रन बनाने से कोई फायदा नहीं होता। मैं गणित का बहुत बड़ा फैन नहीं हूं। इस वजह से मैं स्कूल में भी अच्छा नहीं था। नेट रन रेट के बारे में अधिक सोचने से हेल्प नहीं मिलती है। आप सिर्फ इंडियन प्रीमियर लीग का आनंद लेना चाहते हैं। जब दो टीमें आपस में खेल रही होती है तब आप दबाव और सोच में नहीं रहना चाहते। आपको सिर्फ इतना सोचने की आवश्यकता है कि आगे के खेल में आपको क्या करना है। यदि हम प्लेऑफ में जगह बनाते हैं तो बहुत बढ़िया। लेकिन हम ऐसा न भी करें तो यह दुनिया का अंत नहीं है।”

जैसा कि एमएस धोनी ने कहा कि वो नेट रन रेट के बारे में अधिक नहीं सोचते हैं, क्योंकि वो अपने ऊपर दबाव नहीं लेना चाहते हैं। अगर सीएसके टीम को इस साल आईपीएल में प्लेऑफ तक पहुंचना है तो उन्हें अपने बचे हुए सभी मैच जीतने होंगे। उसके बाद चेन्नई सुपेफ्र किंग्स को अपना रन रेट भी दूसरों टीमों से बेहतर करना होगा। इसके अलावा वह इसके उपर भी निर्भर करता है कि अन्य टीमें जो प्लेऑफ में जगह बनाने के दावेदार है वो कैसा प्रदर्शन करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.