साल 2021 में भारत में कुल कितने राज्य हैं | Bharat Me Kul Kitne Rajya Hai

साल 2021 में भारत में कुल कितने राज्य हैं | Bharat Me Kul Kitne Rajya Hai | Bharat Me Kitne Rajya Hai | भारत में कितने राज्य हैं 2021 | केंद्र शासित प्रदेश कितने हैं | भारत में 28 राज्य कौन कौन से हैं?

भारत के हर नागरिक को अपने देश के बारे में अधिक से अधिक जानकारी रखने का पूरा अधिकार है, क्योंकि इंडिया एक स्वतंत्र देश है। हिंदुस्तान में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिन्हें यह नहीं मालूम होगा कि साल 2021 में भारत में कुल कितने राज्य हैं? अगर आप भी उनमे से एक हैं तो आप बिल्कुल सही लेख पढ़ रहे हैं, क्योंकि इस आर्टिकल में आगे विस्तार से यह बताया गया है कि Bharat Me Kitne Rajya Hai

Bharat Me Kul Kitne Rajya Hai

भारत को आगे बढ़ाने के लिए देश को अलग-अलग भागों में बांटा गया है जिसे राज्य कहा गया है। ऐसा इसलिए किया गया है ताकि देश की तरक्की हो सके। भारत के अलावा भी दुनिया के लगभग सभी देशों में राज्य बनाए गए हैं। भारत में राज्य के साथ-साथ केंद्र शासित प्रदेश भी है। मैं आपको बता दूं कि इंडिया के सभी राज्यों को वहां की चुनी गई सरकार के द्वारा चलाया जाता है, लेकिन केंद्र शासित प्रदेश पर केंद्र सरकार का शासन होता है तो चलिए आगे हम जानते हैं कि Bharat Me Kul Kitne Rajya Hai

इस आर्टिकल में आगे आपको यह जानने को मिलेगा कि Bharat Me Kul Kitne Rajya Hai, Bharat Me Kitne Rajya Hai, भारत में कितने राज्य हैं 2021, भारत में कुल कितने राज्य हैं?

भारत में कुल कितने राज्य हैं?

साल 2021 में इस समय भारत में टोटल 28 राज्य तथा 8 केंद्र शासित प्रदेश है। हिंदुस्तान में अभी तक टोटल 29 राज्यों का गठन हो चुका है, लेकिन अब इस सूची में एक राज्य कम हो गए हैं। क्योंकि वर्ष 2019 में जम्मू-कश्मीर से जब आर्टिकल 370 हटाया गया, उसके बाद जम्मू-कश्मीर को दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया। इस वजह से फिलहाल भारत में 28 राज्य हैं तो अब आपको यह मालूम चल गया कि भारत में कुल कितने राज्य हैं?

भारत के 28 राज्य कौन कौन से हैं? लिस्ट

जैसा कि आपको ऊपर मालूम चला होगा कि इस समय हिंदुस्तान में कुल 28 राज्य और 8 केंद्र शासित प्रदेश है। लेकिन अब सवाल यह आता है कि भारत के 28 राज्य कौन कौन से हैं? इसी सवाल का जवाब देने के लिए हमने नीचे टेबल बना दिया है जिसमे भारत के सभी 28 राज्य तथा उसकी राजधानी के बारे में बताया गया है, इस वजह से उसे ध्यानपूर्वक पढ़िए :-

क्र.सं. राज्य  राजधानी  स्थापना 
01 उत्तर प्रदेश लखनऊ साल 1950
02 आंध्र प्रदेश विशाखापट्टनम, कुर्नूल तथा अमरावती साल 1956
03 पश्चिम बंगाल कोलकाता साल 1950
04 बिहार पटना साल 1950
05 अरुणाचल प्रदेश ईटानगर साल 1987
06 छत्तीसगढ़ रायपुर साल 2000
07 गुजरात गांधीनगर साल 1960
08 असम दिसपुर साल 1972
09 हरियाणा चंडीगढ़ साल 1966
10 गोवा पंजी साल 1987
11 हिमाचल प्रदेश शिमला साल 1971
12 झारखंड रांची साल 2000
13 कर्नाटक बेंगलुरु साल 1956
14 केरल तिरुवनन्तपुरम साल 1956
15 मध्य प्रदेश भोपाल साल 1956
16 महाराष्ट्र मुंबई साल 1960
17 उत्तराखंड देहरादून साल 2000
18 त्रिपुरा अगरतला साल 1972
19 तमिलनाडु चेन्नई साल 1956
20 तेलंगाना हैदराबाद साल 2014
21 सिक्किम गंगटोक साल 1975
22 राजस्थान जयपुर साल 1950
23 ओड़िशा भुवनेश्वर साल 1950
24 पंजाब चंडीगढ़ साल 1966
25 नागालैंड कोहिमा साल 1963
26 मिजोरम आइजोल साल 1987
27 मणिपुर इम्फाल साल 1972
28 मेघालय शिलांग साल 1972

भारत के सभी 28 राज्यों के बारे में जानिए विस्तार से

हमने आगे भारत के सभी 28 राज्यों के बारे में विस्तार से बताया है, इस वजह से आप नीचे दी गई सभी जानकारी को ध्यान से पढ़िए। उम्मीद करता हूं कि उसे पढ़कर आपको अच्छा लगेगा।

1. उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश भारत का एक महत्वपूर्ण राज्य है और इसकी स्थापना साल 1950 में की गई थी, लेकिन उससे पहले इस राज्य का नाम यूनाइटेड प्रॉविंस हुआ करता था और उसमे अवध तथा आगरा दोनों शामिल थे। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ है, वहीं इस राज्य में टोटल 75 जिले हैं और उसकी आबादी 24 करोड़ से अधिक है।

2. आंध्र प्रदेश

आंध्र प्रदेश का गठन साल 1953 में हो गया था, लेकिन इसे पूर्ण राज्य का दर्जा साल 1956 में मिला था। आंध्र प्रदेश की राजधानी है विशाखापट्टनम, कुर्नूल तथा अमरावती है और इस राज्य में कुल 13 जिले हैं। यह भारत का एकमात्र ऐसा राज्य है जिसकी तीन राजधानी है। वर्तमान में आंध्र प्रदेश की कुल जनसंख्या 5 करोड़ 46 लाख है।

3. पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल का गठन साल 1950 में किया गया था। भारत के इस महत्वपूर्ण राज्य की राजधानी कोलकाता है। पश्चिम बंगाल में टोटल 23 जिले हैं और वर्तमान में इसकी कुल जनसंख्या 9 करोड़ 13 लाख से अधिक है।

4. बिहार

बिहार को अंग्रेजों ने 22 मार्च 1912 को बनाया था, लेकिन इसे पूर्ण राज्य का दर्जा 26 जनवरी 1950 मिला। बिहार की राजधानी पटना है और इस राज्य में कुल 38 जिले हैं। वहीं जनसंख्या की बात करें तो बिहार में 12 करोड़ 70 लाख से अधिक आबादी है।

5. अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश प्रदेश की राजधानी ईटानगर है। इसे साल 1972 में केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया था, लेकिन साल 1987 में केंद्र शासित प्रदेश हटाकर इसे पूर्ण राज्य का दर्जा दे दिया गया। अरुणाचल प्रदेश कुल 25 जिले हैं तथा इस राज्य की टोटल जनसंख्या वर्तमान में 17 लाख 11 हजार से अधिक है।

6. छत्तीसगढ़

साल 2000 में छत्तीसगढ़ को मध्य प्रदेश से अलग करके एक राज्य बनाया गया। जिसकी राजधानी रायपुर है। इस राज्य में टोटल 28 जिले हैं और उनको मिलाकर छत्तीसगढ़ की कुल जनसंख्या वर्तमान में 3 करोड़ से अधिक है।

7. गुजरात

एक समय ऐसा था जब गुजरात और महाराष्ट्र बॉम्बे प्रेजिडेंसी का हिस्सा हुआ करता था, लेकिन साल 1960 में इन दोनों को अलग-अलग राज्य बना दिया गया। गुजरात की राजधानी गांधीनगर है और इस स्टेट में टोटल 33 जिले हैं। वहीं वर्तमान में गुजरात की कुल जनसंख्या 6 करोड़ 48 लाख से अधिक है।

8. असम

असम को अंग्रेजों ने साल 1826 में अपने अधिकार में ले लिया था। उसके बाद साल 1874 में इसे बंगाल से अलग कर दिया गया। फिर 1912 में पुनर्गठित किया गया, लेकिन पूर्ण राज्य का दर्जा असम को साल 1950 में मिला। असम की राजधानी दिसपुर है। इस राज्य में टोटल 34 जिले हैं और उन सबको मिलाकर वहां की कुल जनसंख्या 3 करोड़ 40 लाख से अधिक है।

9. हरियाणा

हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ है और इसकी स्थापना साल 1966 में की गई थी। हरियाणा में कुचल 22 जिले हैं और उन सबको मिलकर वहां की टोटल जनसंख्या 2 करोड़ 73 लाख से अधिक है। भारत के इस राज्य की क्षेत्रफल के बारे में बात तो इसकी टोटल क्षेत्रफल 44,212 वर्ग किलोमिटर है।

10. गोवा

जब भारत आजाद हो गया था, उसके बाद भी यह क्षेत्र पुर्तगालियों के कब्जे में था। उसके बाद साल 1961 में भारतीय सेना ने इस राज्य को पुर्तगालियों के कब्जे से मुक्त कराया, फिर उसे केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया। लेकिन साल 1987 में गोवा को पूर्ण राज्य का दर्जा दे दिया गया।  गोवा की राजधानी पंजी है तथा इस राज्य में सिर्फ दो जिले हैं और वहां की कुल आबादी करीब 16 लाख है।

11. हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश को साल 1950 में बनाया गया था, फिर साल 1956 में इसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया। लेकिन 25 जनवरी 1971 को इसे एक पूर्ण राज्य का दर्जा मिला। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला है और इस राज्य में टोटल 12 जिले हैं। वहीं के सभी जिलों को मिलाकर हिमाचल प्रदेश की टोटल जनसंख्या 7 करोड़ 51 लाख से ज्यादा है।

12. झारखंड

झारखंड एक समय बिहार का हिस्सा था, लेकिन साल 2000 में इसे बिहार से अलग करके एक राज्य बना दिया गया। झारखंड की राजधानी रांची है और वहां पर कुल 24 जिले हैं। वहीं जनसंख्या की बात करें तो झारखंड की टोटल आबादी 3 करोड़ 90 लाख से अधिक है।

13. कर्नाटक

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु है। वैसे इसका गठन साल 1956 में कर दिया गया था और उस समय इसे मैसूर राज्य के नाम से जाना जाता था। लेकिन साल 1971 में इसका नाम बदलकर कर्नाटक कर दिया गया। कर्नाटक में टोटल 31 जिले हैं और उन सभी को मिलाकर वहां की कुल आबादी 6 करोड़ 84 लाख से अधिक है।

14. केरल

केरल की राजधानी तिरुवनन्तपुरम है। साल 1956 में मलाबार, कोचीन और त्रावणकोर को मिलाकर केरल राज्य बनाया गया था। इस राज्य में कुल 14 जिले हैं और उन सब को मिलाकर केरल की जनसंख्या 3 करोड़ 58 लाख है।

15. मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल है। इसे साल 2000 में छत्तीसगढ़ से विभाजित करके एक अलग राज्य बनाया गया था। मध्य प्रदेश में टोटल 55 जिले हैं तथा वहां की कुल जनसंख्या वर्तमान में 8 करोड़ 68 से ज्यादा है।

16. महाराष्ट्र

साल 1960 से पहले महाराष्ट्र तथा गुजरात एक ही हुआ करता था, लेकिन 1960 में महाराष्ट्र और गुजरात को अलग-अलग राज्य बना दिया गया। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई है और वहां पर टोटल 36 जिले हैं। फिलहाल महाराष्ट्र की कुल आबादी 11 करोड़ 23 लाख से अधिक है।

17. उत्तराखंड

साल 2000 में उत्तराखंड को उत्तरी उत्तर प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों को आपस में जोड़कर एक राज्य बना दिया गया था। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून है तथा वहां पर 13 जिले हैं। इसके अलावा उत्तराखंड की टोटल आबादी एक करोड़ 14 लाख से अधिक है।

18. त्रिपुरा

त्रिपुरा की राजधानी अगरतला है। साल 1972 में इसे पूर्ण राज्य का दर्जा दिया गया था, वहीं उससे पहले यह एक केंद्र शासित प्रदेश हुआ करता था। त्रिपुरा टोटल 8 जिलों से मिलकर बना है, वहां की आबादी फिलहाल 42 लाख है।

19. तमिलनाडु

जब तमिलनाडु अंग्रेजों के कब्जे में था, उस समय इसे मद्रास प्रेजिडेंसी के नाम से जाना जाता था। उसके बाद साल 1956 में इसका नाम मद्रास प्रेजिडेंसी से तमिलनाडु कर दिया गया। इस समय तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई है। यह राज्य 38 जिलों से मिलकर बना है तथा इसकी जनसंख्या 7 करोड़ 88 लाख से अधिक हो चुकी है।

20. तेलंगाना

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद है और इसे साल 2014 में आंध्र प्रदेश से विभाजित करके बनाया गया। तेलंगाना में कुल 33 जिले हैं तथा वहां की टोटल जनसंख्या तकरीबन 4 करोड़ के आसपास हो गई है और आने वाले समय इस संख्या में बहुत ज्यादा इजाफा हो सकता है।

21. सिक्किम

सिक्किम की राजधानी गंगटोक है और इस राज्य में सिर्फ 4 जिले हैं। भारत के इस स्टेट की कुल आबादी फिलहाल 6 लाख 58 हजार है और यह भारत का दूसरा सबसे छोटा राज्य भी है। सिक्किम को साल 1975 में बनाया गया था।

22. राजस्थान

राजस्थान की राजधानी जयपुर है और इसका गठन साल 1950 में किया गया था। राजस्थान टोटल 33 जिलों से मिलकर बना है तथा इसकी कुल जनसंख्या वर्तमान में 8 करोड़ 24 लाख से अधिक हो चुकी है और लगातार इसमें वृद्धि देखने को मिल रहा है।

23. ओड़िशा

ओड़िशा की राजधानी भुवनेश्वर है, इस राज्य को अंग्रेजों ने साल 1936 में बनाया था। लेकिन साल 1950 में इसे पूर्ण राज्य का दर्जा दिया गया। ओड़िशा 30 जिलों से मिलकर बना है और इसकी कुल जनसंख्या 4 करोड़ 68 लाख से अधिक है।

24. पंजाब

पंजाब की राजधानी इस समय चंडीगढ़ है, इसकी स्थापना साल 1966 में की गई थी। भारत के इस स्टेट में कुल तीन करोड़ से अधिक लोग रहते हैं तथा इस राज्य में टोटल 23 जिला है।

25. नागालैंड

नागालैंड की राजधानी कोहिमा है और इस राज्य की स्थापना साल 1963 में की गई थी। नागालैंड टोटल 12 राज्यों से मिलकर बना है। इस समय पंजाब की जनसंख्या वर्तमान में तकरीबन 23 लाख है और जिस तरह वहां की आबादी में बढ़ोतरी देखने को मिल रहा है इससे लग रहा है यह आंकड़ा और भी बढ़ेगा।

26. मिजोरम

मिजोरम की राजधानी आइजोल है और इसकी स्थापना साल 1987 में की गई थी। उससे पहले मिजोरम असम का एक जिला हुआ करता था, उसके बाद इसे 1972 में केंद्र शासित प्रदेश भी बनाया गया था। लेकिन 1987 में इसे पूर्ण राज्य का दर्जा दे दिया गया। मिजोरम 11 राज्यों से मिलकर बना है और वहां की कुल आबादी 12 लाख 60 हजार है।

27. मणिपुर

मणिपुर की राजधानी इम्फाल है और यह राज्य 16 जिलों से मिलकर बना है तथा इसकी जनसंख्या 31 लाख है। साल 1956 में मणिपुर को केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया था, लेकिन 1972 में इसे पूर्ण राज्य का दर्जा दे दिया गाय।

28. मेघालय

मेघालय की राजधानी शिलांग है और यह राज्य टोटल 11 जिलों से मिलकर बना हुआ है। वहीं मेघालय की आबादी फिलहाल 34 लाख से अधिक है। इसे 1970 में असम के अंतर्गत स्वायत्त राज्य बनाया गया था। उसके दो साल बाद 1972 में इसे पूर्ण राज्य का दर्जा दिया गया।

भारत में केंद्र शासित प्रदेश कितने हैं 2021?

केंद्र शासित प्रदेश ऐसे प्रदेश को कहा जाता है जहां पर भारत सरकार का शासन होता है। हिंदुस्तान में टोटल 8 शासित प्रदेश हैं और उन सभी प्रदेशों की सूची नीचे टेबल में दी गई है तो चलिए अब हम इसके बारे में भी जानते हैं :-

क्र.सं. केंद्र शासित प्रदेश राजधानी  स्थापना 
01 अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह पोर्ट ब्लेयर साल 1956
02 दादरा नगर हवेली और दमन दीव दमन साल 2020
03 जम्मू और कश्मीर श्रीनगर साल 2019
04 लद्दाख लेह साल 2019
05 दिल्ली नई दिल्ली साल 1956
06 चंडीगढ़ चंडीगढ़ साल 1966
07 लक्षद्वीप कवरत्ती साल 1956
08 पुडुचेरी पुडुचेरी साल 1962

भारत के 8 केंद्र शासित प्रदेश के बारे में जानिए विस्तार से

भारत में टोटल 8 केंद्र शासित प्रदेश हैं और उसके बारे में विस्तार से नीचे बताया गया है तो चलिए अब हम इसके बारे में भी जानते हैं :-

1. अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह

अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की राजधानी पोर्ट ब्लेयर है और इसका गठन साल 1956 में किया गया था। इस केंद्र शासित प्रदेश में सिर्फ तीन जिले हैं और वहां पर रहने वालों की कुल संख्या 4 लाख से अधिक है।

2. दादरा नगर हवेली और दमन दीव

दादरा नगर हवेली और दमन दीव की राजधानी दमन है और इसकी स्थापना साल 2020 में की गई है। यह केंद्र शासित प्रदेश सिर्फ तीन जिलों से मिलकर बना है और वहां की कुल जनसंख्या 4 लाख 66 हजार है।

3. जम्मू और कश्मीर

जम्मू और कश्मीर की राजधानी श्रीनगर है और वह 20 जिलों से मिलकर बना है तथा वहां की कुल आबादी एक करोड़ 25 लाख है। साल 2019 से पहले यह एक राज्य हुआ करता था, लेकिन 2019 में इसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया।

4. लद्दाख

साल 2019 में लद्दाख को जम्मू और कश्मीर से अलग करके इसे भी केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया। लद्दाख की राजधानी लेह है और वहां पर टोटल दो राज्य है। लद्दाख की टोटल जनसंख्या तीन लाख है।

5. दिल्ली

दिल्ली की राजधानी नई दिल्ली है जिसकी स्थापना साल 1956 में की गई थी। दिली में टोटल 11 जिले हैं और उसकी जनसंख्या के बारे में बात करें तो वहां की कुल आबादी तीन करोड़ 80 लाख से अधिक है।

6. चंडीगढ़

चंडीगढ़ की राजधानी भी चंडीगढ़ ही है और इसकी स्थापना साल 1966 में की गई थी। वहां पर सिर्फ एक जिला है तथा उसकी टोटल जनसंख्या 16 लाख से अधिक है। आपको बता दें कि चंडीगढ़ पंजाब तथा हरियाणा दोनों की राजधानी भी है।

7. लक्षद्वीप

लक्षद्वीप की राजधानी कवरत्ती है और इस केंद्र शासित प्रदेश का गठन साल 1956 में किया गया था। लक्षद्वीप में सिर्फ एक जिला है तथा वहां की कुल जनसंख्या वर्तमान में तकरीबन 70 हजार के आसपास है।

8. पुडुचेरी

पुडुचेरी की राजधानी भी पुडुचेरी है। इस केंद्र शासित प्रदेश की स्थापना साल 1962 में किया गया था। पुडुचेरी में कुल चार जिला मौजूद है तथा वहां की कुल जनसंख्या 8 लाख 56 हजार से अधिक है।

इस लेख से जुड़ी कुछ सवाल व जवाब (FAQ)

इस आर्टिकल को यहां तक पढ़ने के बाद आपके मन में कई सवाल आ रहे होंगे। उसी समस्या को दूर करने के लिए नीचे हमने कुछ सवाल के जवाब दिए हैं। इस वजह से आप उसे जरुर पढ़िए।

1. वर्तमान में भारत में कुल कितने राज्य है?

वर्तमान में इस समय भारत में टोटल 28 राज्य है।

2. वर्तमान में कुल कितने केंद्र शासित प्रदेश हैं?

वर्तमान में भारत में कुल 8 केंद्र शासित प्रदेश हैं।

3. भारत के किस राज्य में सबसे अधिक जिले हैं?

उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 75 जिले हैं।

4. भारत में अब कितने राज्य और केंद्र शासित प्रदेश हैं?

भारत में कुल 28 राज्य तथा 8 केंद्र शासित प्रदेश हैं।

5. भारत का 29वां राज्य कौन सा है?

साल 2014 में भारत का 29वां राज्य तेलंगाना बना था, लेकिन भारत अब सिर्फ 28 राज्य रह गए हैं। क्योंकि जम्मू और कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है।

तो अब आपको यह समझ में आ गया होगा कि साल 2021 में भारत में कुल कितने राज्य हैं? इन सभी राज्यों के बारे में हमने इस लेख में विस्तार से बताया है। इसके अलावे हमने यह भी बताया है कि देश में कितने केंद्र शासित प्रदेश हैं तो उम्मीद करता हूं कि यह आर्टिकल Bharat Me Kul Kitne Rajya Hai के बारे में आपको सभी जानकारी मिल गई होगी।

इसे भी पढ़िए :-

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें?

दुनिया का सबसे अमीर आदमी कौन है?

भारत में कुल कितने जिले हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *