बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं

बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं | Aadhar Card For Children

क्या आप भी जानना चाहते हैं कि बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं? तो यह आर्टिकल आपको पूरा पढ़ना चाहिए। क्योंकि किसी भी छोटे बच्चों के लिए आधार कार्ड बनवाने से पहले उसके बारे में आपको पूरी जानकारी होना बहुत जरुरी है। हम सब जानते हैं कि वर्तमान में अधिकतर कामों के लिए सबसे पहले आधार कार्ड मांगा जाता है, इसी वजह से लोग अपना आधार कार्ड बनवा लेते हैं।

बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं

लेकिन हम उस समय सोच में पड़ जाते हैं जब हम किसी बच्चे का आधार कार्ड बनवाना चाहते हैं, क्योंकि हमें उसकी प्रक्रियाओं के बारे में कोई जानकारी नहीं होती है। यही कारण है कि आज की इस लेख में हमने विस्तार से बताया है कि बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं? आपको बता दें कि UIDAI की तरफ से Aadhar Card बनाने की कोई भी आयु सीमा तय नहीं की गई है। इससे साफ़ है कि आप नवजात शिशु का भी आधार कार्ड बनवा सकते हैं जिसे बाल आधार भी कहा जाता है तो चलिए अब हम जानते हैं कि बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं?

बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं | Aadhar Card For Children

आधार कार्ड बनवाने के लिए कोई निश्चित आयु सीमा तय नहीं की गई है, इस वजह से कुछ लोग 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों के लिए आधार कार्ड बनवाना चाहते होंगे तो कुछ लोग 5 वर्ष से 15 वर्ष की उम्र के बच्चों के लिए। लेकिन इन दोनों के लिए अलग-अलग प्रक्रिया तय की गई है।

इसी वजह से हम सबसे पहले उन बच्चों को आधार कार्ड बनवाने के बारे में बात करेंगे, जिनकी आयु पांच वर्ष से कम है। उसके बाद हम यह जानेंगे कि 5 वर्ष से लेकर 15 साल तक के बच्चों के लिए आधार कार्ड कैसे बनवा सकते हैं।

5 साल से कम आयु के बच्चों के लिए आधार कार्ड

अगर आपके घर में 5 साल से कम आयु के बच्चे हैं और आप उसका आधार कार्ड बनवाना चाहते हैं तो अच्छी बात है। वहीं कुछ लोग ऐसे हैं जो छोटे बच्चों का आधार कार्ड नहीं बनवाते हैं, इस वजह से हमने नीचे इसकी कुछ विशेषताओं के बारे में बताया है जिसके बारे में आपको अवश्य मालूम होना चाहिए।

  • 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों का आधार कार्ड आसानी से बन सकता है।
  • 5 साल से कम आयु के बच्चों का बायोमेट्रिक लेने की जरुरत नहीं पड़ती है।
  • इस उम्र के बच्चों को आधार कार्ड के लिए सिर्फ फोटो ली जाती है।
  • उस दौरान माता-पिता में से किसी एक का आधार कार्ड देना होता है।
  • जब बच्चा पांच वर्ष का हो जाता है फिर उसे उंगलियों और आईरिस स्कैन का बायोमेट्रिक डेटा देने होते हैं। उस दौरान फोटोग्राफ भी लिया जाता है।
  • उसके बाद जब वह बच्चा 15 वर्ष का हो जाता है तब उन्हें फिर से यह प्रक्रिया दोहरानी पड़ती है।

5 साल से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए आधार कार्ड

जिस तरह वयस्कों के लिए आधार कार्ड बनाया जाता है बिल्कुल उसी प्रकार 5 साल से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए भी आधार कार्ड बनाया जाता है। इससे साफ है कि पांच वर्ष से अधिक और वयस्कों के लिए आधार बनवाने की प्रक्रिया बिल्कुल बराबर है।

  • 5 साल से अधिक के बच्चे तथा वयस्कों के लिए प्रक्रिया बराबर है।
  • इन दोनों के बीच सिर्फ जरुरी दस्तावेजों में अंतर होगा।
  • जब बच्चे की उम्र 15 वर्ष हो जाएगी, फिर उन्हें बायोमेट्रिक डेटा अपडेट करवाना होगा।
  • 5 साल से अधिक आयु के बच्चे को जन्म प्रमाण पत्र देना जरुरी है।

5 वर्ष से कम आयु के बच्चों के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

जब कोई बच्चा पांच साल से कम आयु का होता है तब उस के लिए आधार कार्ड बनवाते समय कुछ जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है जो इस प्रकार है :-

  • उस बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र होना आवश्यक]
  • माता-पिता में से किसी एक का आधार कार्ड होना अनिवार्य
  • सत्यापन के लिए इन दोनों डाक्यूमेंट्स की ऑरिजनल कॉपी

5 साल से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए जरुरी दस्तावेज

अगर बच्चा 5 साल से लेकर 15 वर्ष की आयु के बीच का है तो उन्हें भी कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, जिसके बारे में हमने नीचे बताया है :-

  • उस बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र होना अनिवार्य
  • संस्था के लेटर हेड पर बोनाफाइड सर्टिफिकेट भी जरुरी
  • उस बच्चे के स्कूल का पहचान पत्र जरुरी
  • माता-पिता का आधार कार्ड भी आवश्यक

5 वर्ष से कम आयु के बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं?

यदि आप उस बच्चे का आधार कार्ड बनवाना चाहते हैं जिसकी आयु पांच साल से कम है तो उस के लिए नीचे दिए गए सभी स्टेप को ध्यान से पढ़िए। उसके बाद आपको सब कुछ समझ में आ जाएगा :-

  • इस के लिए आपको अपने नजदीकी नामांकन केंद्र पर जाना होगा।
  • वहां पर जानें के बाद आपको आधार नामांकन फॉर्म भरना होगा।
  • उस फॉर्म में बच्चे के माता-पिता में से किसी एक का आधार से जुड़ी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • उसके बाद उस बच्चे की तस्वीर भी देना होगा।
  • उस दौरान माता या पिता के बायोमेट्रिक डाटा से पता लिया जाएगा।
  • उस दौरान बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र भी देना होगा।
  • फिर आपको एनरोलमेंट स्लिप दे दिया जाएगा।

5 वर्ष से अधिक आयु के बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं?

जिन बच्चों की आयु पांच साल से अधिक हो चुकी है उन के लिए आधार कार्ड वयस्कों की तरह ही बनाया जाता है, लेकिन सिर्फ उनके दस्तावेजों में अंतर होता है। इस वजह से नीचे दिए गए स्टेप को ध्यानपूर्वक पढ़िए :-

  • इस के लिए सबसे पहले आप अपने नजदीकी आधार सेंटर पर जाइए।
  • उसके बाद आपको वहां पर आधार एनरोलमेंट फार्म भरना होगा।
  • अच्छी तरह फॉर्म भरने के बाद वहां पर जमा कर दें।
  • फिर आधार सेंटर वाले उस बच्चे के फिंगरप्रिंट, आयरिसश स्कैन और फोटोग्राफ लेंगे।
  • आवेदन पूर्ण होने के बाद आपको एक एकनोलेजमेंट स्लिप दे दी जाएगी।
  • आप उस एक एकनोलेजमेंट स्लीप में दी गई आईडी से धार कार्ड का स्टेटस देख पाएंगे।

तो अब आपको यह मालूम चल गया होगा कि बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनवाएं? इस विषय में आपको लगभग सभी जानकारी विस्तार से मिल गई होगी। इस लेख को पढ़ने के बाद आप आसानी से किसी भी बच्चे का आधार कार्ड बनवा सकते हैं। अब आप इस आर्टिकल को अधिक से अधिक शेयर कीजिए, ताकि और भी लोगों को इसके बारे में संपूर्ण जानकारी मिल सके।

इसे भी पढ़िए :-

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें?

कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट डाउनलोड कैसे करें?

Leave a Reply

Your email address will not be published.