“बाबर ZERO है, उसकी तुलना कोहली से मत करो”, पाक कप्तान पर भड़के पूर्व स्पिनर, कहा – “पाकिस्तान में कोहली-रोहित जैसा कोई नहीं”

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने पाक कप्तान बाबर आजम पर तंज कसा है। साथ ही उन्होंने लोगों से कहा है कि वे विराट कोहली के साथ बाबर आजम की तुलना करना बंद कर दें, क्योंकि पूर्व स्पिनर को लगता है कि 28 वर्षीय कप्तान के रूप में बाबर जीरो हैं।

बता दें कि मंगलवार को बेन स्टोक्स की अगुवाई वाली इंग्लैंड ने पाकिस्तान को कराची में तीसरे टेस्ट में हरा कर सीरीज को 3-0 से जीत लिया है, जिसके बाद पाकिस्तान काफी नीचे जा चुका है। इसके साथ ही बाबर आजम एक कैलेंडर वर्ष में चार घरेलू टेस्ट हारने वाले इतिहास के पहले पाकिस्तानी कप्तान बन चुके हैं। इस वजह से सोशल मीडिया सहित हर तरफ उनकी आलोचना हो रही है।

पाकिस्तान की टीम में कोहली-रोहित जैसा कोई नहीं

अपने YouTube चैनल पर बोलते हुए, कनेरिया ने बाबर आजम पर जम कर निशाना साधा और कहा कि भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली से उनकी तुलना करना बंद करें। पूर्व स्पिनर ने साथ ही कहा कि पाकिस्तान की टीम में ऐसा कोई नहीं है, जिसकी तुलना बड़े खिलाड़ी जैसे विराट कोहली या रोहित शर्मा से की जा सके।

कनेरिया ने कहा “लोगों को बाबर आज़म की तुलना विराट कोहली से करना बंद कर देना चाहिए। विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ी बहुत बड़े खिलाड़ी हैं। पाकिस्तान की टीम में ऐसा कोई नहीं है, जिसकी तुलना उनसे की जा सके। यदि आप उनसे बात करते हैं, तो वे राजा बनेंगे। जब आप उन्हें परिणाम देने के लिए कहते हैं, वे जीरो होंगे”।

बाबर आजम जीरो हैं

कनेरिया ने आगे कहा कि एक कप्तान के रूप में बाबर आजम एक बड़ा जीरो हैं और टीम का नेतृत्व करने के लायक नहीं है। पूर्व स्पिनर ने कहा कि 28 साल के इस खिलाड़ी के पास श्रृंखला के दौरान बेन स्टोक्स और ब्रेंडन मैकुलम से कप्तानी के बारे में सीखने का अच्छा मौका है। कनेरिया ने यह भी कहा कि जब टीम का नेतृत्व करने की बात आती है, तो बाबर आजम पूर्व कप्तान सरफराज अहमद से सलाह ले सकते थे।

सरफराज अहमद को दे देते कप्तानी

कनेरिया ने कहा “बाबर आज़म कप्तान के रूप में एक बड़ा जीरो हैं। वह टीम का नेतृत्व करने के लायक नहीं है। वह टीम का नेतृत्व करने में सक्षम नहीं है, खासकर जब टेस्ट क्रिकेट की बात आती है। उसके पास बेन स्टोक्स को देखकर कप्तानी सीखने का अच्छा मौका था और ब्रेंडन मैकुलम से सीरीज के दौरान। या, वह अपने अहंकार को एक तरफ रख सकते थे और सरफराज अहमद से कप्तानी करने के लिए कह सकते थे”।

गौरतलब है कि इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज हारने के बाद पाकिस्तान विश्व टेस्ट चैंपियनशिप स्टैंडिंग में नंबर 7 पर खिसक गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *