शराब की लत ने इस भारतीय खिलाड़ी का करियर किया बर्बाद, फिर आत्महत्या करने का किया प्रयास, मात्र 17 साल की उम्र में किया था डेब्यू

भारतीय टीम के लिए हर साल बहुत सारे खिलाड़ी डेब्यू करते हैं, लेकिन उनमे से कुछ ही ऐसे क्रिकेटर होते हैं जो लंबे समय तक टीम इंडिया के लिए खेल पाते हैं। आज के दौर में भारत के लिए खेलना बहुत मुश्किल है, क्योंकि अब इस क्षेत्र में धीरे-धीरे प्रतिस्पर्धा बहुत ज्यादा हो गई है।

भारतीय टीम

वर्तमान में भारतीय टीम के लिए खेलने का सपना बहुत सारे युवा क्रिकेटर देखते हैं, लेकिन उनमे से कुछ ही का यह ड्रीम पूरा हो पाता है जो अच्छी प्रदर्शन करते हैं। वहीं जिन खिलाड़ियों को मौका नहीं मिलता है वो बहुत निराश होते हैं, फिर वो क्रिकेट से दूरी बनाने का सोचने लगते हैं। लेकिन आज हम एक ऐसे भारतीय खिलाड़ी के बारे में जानने वाले हैं जिन्होंने मात्र 17 साल की आयु में डेब्यू किया था, लेकिन शराब की लत ने उनका करियर खराब कर दिया। फिर उन्होंने आत्महत्या करने का भी प्रयास किया।

इस क्रिकेटर ने 17 वर्ष की आयु में किया था डेब्यू

आज हम जिस भारतीय खिलाड़ी के बारे में बात करने जा रहे हैं उसका नाम मनिंदर सिंह है, जिसका जन्म साल 1965 में पुणे में हुआ था। मनिंदर सिंह टीम इंडिया के लिए मात्र 17 साल की आयु में डेब्यू किया था और वो शुरुआत में जबरदस्त प्रदर्शन किया करते थे, जिस वजह एक समय उनकी तुलना बिशन सिंह बेदी से होती थी। लेकिन जैसे ही उनका फॉर्म एक बार ख़राब हुआ, उसके बाद मानसिक दबाव की वजह से उनका करियर पूरी तरह से खराब हो गया।

शराब की वजह से करियर हुआ खराब

जब मनिंदर सिंह का फॉर्म एक बार खराब हुआ, उसके बाद उन्हें विकेट मिलना पूरी तरह से बंद हो गया। इस वजह से साल 1990 में उन्हें भारतीय टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। साल 1994 में वो फिर से वापसी करते हुए 7 विकेट चटकाए, लेकिन वो फिर से भारतीय टीम में जगह नहीं बना पाए। इसी वजह से मनिंदर सिंह का क्रिकेट करियर मात्र 27 साल की आयु में खराब हो गया। जब वो भारतीय टीम से बाहर हुए उसके बाद वो शराब पीने लगे और वहीं से उनका क्रिकेट करियर पतन की तरफ बढ़ गया।

आत्महत्या करने का किया प्रयास

जब मनिंदर सिंह पूरी तरह भारतीय टीम से बाहर हो गए और उन्हें टीम इंडिया में मौका मिलना बंद हो गया। उसके बाद वो एक बार आत्महत्या करने का भी प्रयास किया। इसके बारे में जब मनिंदर सिंह से पूछा गया तो उन्होंने इसे बस एक हादसा बताया। मनिंदर शराब पीने के साथ ड्रग्स भी लेना शुरू कर दिया था, जिस वजह से पुलिस ने उसे गिरफ्तार करके जेल भी भेज दिया था। मनिंदर सिंह अपने क्रिकेट करियर में 35 टेस्ट मैच खेलते हुए 88 तथा 59 ओडीआई मैचों में 66 विकेट चटकाए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.