विज्ञापन

‘मेरा कॉल गलत नहीं था’, हार के बाद हार्दिक पांड्या ने दिया अजीबोगरीब बयान, इसके ऊपर फोड़ा हार का ठीकरा

हार्दिक पांड्या की कप्तानी वाली गुजरात टाइटंस की टीम आईपीएल 2022 में पंजाब किंग्स के खिलाफ 48वें मुकाबले में दूसरी बार हार का सामना करना पड़ा है। इससे पहले सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 11 मई को खेले गए मैच में गुजरात की टीम को हार मिली थी। लेकिन इन सबके बावजूद भी गुजरात की टीम पॉइंट्स टेबल में पहले स्थान पर मौजूद है।

हार्दिक पांड्या
विज्ञापन

आईपीएल 2022 के 48वें मुकाबले में पंजाब किंग्स के खिलाफ गुजरात की टीम को 8 विकेट से हार मिली है, क्योंकि उस मैच में गुजरात टीम के बल्लेबाजों ने ज्यादा रन नहीं बनाए। इसी वजह से उनकी टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 143 रन बना पाई, जिसे पंजाब ने मात्र 16 ओवर में 2 विकेट खोकर पूरा कर लिया।

हार के बाद हार्दिक पांड्या ने दिया बयान

पंजाब किंग्स के खिलाफ 8 विकेट से मिली हार के बाद गुजरात टाइटंस टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या ने कहा कि “हम बराबर स्कोर के नजदीक भी नहीं थे। इस मैच में 170 रनों का स्कोर बेहतर होता, लेकिन हमने नियमित रूप से विकेट खोया और कभी उसके करीब नहीं आ पाए। मैंने बल्ले से अपना समर्थन किया। मैं टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और वह कॉल मेरा गलत नहीं था।”

विज्ञापन

हार्दिक पांड्या ने आगे कहा कि “हमें अपने कम्फर्ट जोन से बाहर आने की आवश्यकता है। हमने इस प्रतियोगिता में अच्छी तरह पीछा किया है। यह सीखने की अवस्था का एक हिस्सा है, लेकिन यह सब हमें अपने कम्फर्ट जोन से बाहर आकर सीखने की जरुरत है। इस प्रतियोगिता में हम जब जीत रहे थे तो उस समय भी हम बेहतर होने की बात कर रहे थे। अब हम उन चीजों के ऊपर बात करेंगे जो आज हमारे रास्ते में नहीं थी। हमारे पास कुछ दिन में एक और खेल है, उस के लिए हमें फिर से संगठित होने की जरुरत है। लेकिन जीत और हार खेल का एक हिस्सा है।”

पंजाब किंग्स के खिलाफ मैच में गुजरात की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट खोकर सिर्फ 143 रन बना पाई। उस दौरा गुजरात की तरफ से साई सुदर्शन ने सबसे अधिक 65 रनों की पारी खेली। पंजाब किंग्स की टीम 144 रनों के लक्ष्य को मात्र 16 ओवर में पूरा कर लिया। पंजाब की तरफ से उस मैच में शिखर धवन ने सबसे अधिक 65 रन बनाए। उसके बाद भानुका राजपक्षे ने 40 रनों की पारी खेली। अंत में लियाम लिविंगस्टोन ने सिर्फ 10 गेंदों पर 30 रन जड़ दिया, जिस वजह से वह मुकाबला पंजाब की टीम आसानी से जीत गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.